5000 रूपये लेकर इंटरस्टेट पास बनवाने वाले दो दलालों को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार।

नवभास्कर न्यूज. फरीदाबादः जिले में ऐसे दलालों का गिरोह सक्रिय है जो जिला उपायुक्त कार्यालय से इंटरस्टेट पास बनवाने के नाम पर लोगों से मोटा पैसा वसूल रहे है।
लोग लॉकडाउन की सूरत में किसी बीमारी या मृत्यु जैसी आपात स्थितियों में शहर से बाहर जाने के लिए जब पास के लिए लघु सचिवालय पहुंचते हैं, तो दलाल उन्हें अपने चंगुल में लेकर एक पास के लिए दो से पांच हजार रुपए तक वसूल रहे हैं।
पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का भंडाफोड़ किया है।क्राइम ब्रांच की टीम ने पंकज व विकास नाम के दो आरोपीयों को गिरफ्तार किया है। यह दोनों लोगों से 10 मिनट में इंटरस्टेट पास दिलाने की एवज में 5000 रूपये लेते थे।
क्राइम ब्रांच को किसी ने इसकी सूचना दी। इस पर पुलिस ने जाल बिछाया। इन आरोपियों ने पुलिस द्वारा भेजे व्यक्ति को 10 मिनट में इंटरस्टेट पास दिलाया और 5000 रूपये वसूल लिए। क्राइम ब्रांच ने तुरंत मौके पर ही दोनो दलालों को रंगे हाथों पकड़ लिया।
डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट यशपाल यादव का कहना है कि कुछ लोग सीधे-साधे व्यक्तियों को बहका कर उनसे पैसा वसूल रहे हैं। किसी भी तरह का पास किसी के कहने से जारी नहीं किया जाता है। कुछ वक्त के बाद अपने आप मंजूर हो जाता है, जिसका फायदा ये उठा रहे हैं। ऐसे लोगों से बचकर रहें। पास के नाम के पैसे किसी को न दें और मांगने पर शिकायत करें।
डीएम यादव का कहना है कि ऐसे ही 2 लोगों को फरीदाबाद पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि आयुक्त पुलिस और उनकी पूरी टीम का धन्यवाद करते हैं, जिन्होंने शिकायत मिलते ही बहुत तेजी के साथ इस पर काम किया।

रिपोर्टःयोगेश अग्रवाल

योगेश अग्रवाल - 9810366590

नवभास्कर न्यूज़ एक माध्यम है आप की बात आप तक पहुंचने का!