महाराजा अग्रसेन जयंती पर व्यापार संगठन चावला कॉलोनी ने किया दीपोत्सव का आयोजन

नवभास्कर न्यूज.बल्लभगढ़ः चावला कालोनी 100 फुट रोड महाराजा अग्रसेन दरबार चौक पर दीपोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया। चावला कॉलोनी व्यापार संगठन के प्रधान कैलाश चंद गर्ग,अग्रवाल धर्मशाला के प्रधान भगवान दास गोयल ,अग्रवाल समाज के सुमित गर्ग,मोहित ग्रुप के डायरेक्टर कन्हैया गर्ग और चावला कॉलोनी के सभी व्यापारियों ने एक जुट होकर महाराजा अग्रसैन जी की प्रतिमा को मालार्पण की व दीप प्रज्जवलित कर सभी अग्रवाल समाज के लोगो को बधाई दी व उनका मुह मीठा कराया। कैलाश चंद गर्ग व सुमित गर्ग ने महाराजा अग्रसैन जी के चरित्र के बारे में बताते हुए कहा कि महालक्ष्मी के आशीर्वाद से भगवान अग्रसेन ने महाभारत के युद्ध से 51 साल पहले ‘अग्रोहा’ में एक बहुत समृद्ध और विकसित राज्य का निर्माण किया, जिसका उल्लेख महाभारत में मिलता है। उन्होंने अपने राज्य को हिमालय, पंजाब, यमुना की तराई और मेवाड़ क्षेत्र तक बढ़ाया। भगवान अग्रसेन ने वानिक धर्म का पालन किया और यज्ञ में पशुओं के वध से इंकार किया। उनके ज्येष्ठ पुत्र विभु थे। उन्होंने 18 महायज्ञों का आयोजन किया। उसके बाद उन्होंने अपने 18 बच्चों के बीच अपने राज्य को विभाजित किया।
अपने प्रत्येक बच्चों के गुरु के नाम से 18 गोत्रों- गर्ग, गोयल, गोयन, बंसल, कंसल, सिंघल, मंगल, जिंदल, तिंगल, ऐरण, धारण, मुधुकुल, बिंदल, मित्तल, तायल, भंदल, नागल, कुच्छल की स्थापना की। अग्रोहा राज्य की 18 राज्य इकाइयां थीं। प्रत्येक राज्य की इकाई को एक गोत्र से अंकित किया गया था। उस विशेष राज्य इकाई के सभी निवासियों की उस गोत्र द्वारा पहचान की गई। भगवान अग्रसेन ने ऐलान किया कि वैवाहिक गठबंधन एक ही गोत्र में नहीं हो सकता है।इसलिए आज भी अग्रवाल समाज के लोग एक गोत्र में शादी नही करते।

इस कार्यक्रम में संगठन के संस्थापक अशोक मंगला ,कन्हैया गर्ग ,महेश गोयल , राम किशन बिंदल , ललित गोयल , जितेंद्र सिंगला , घनश्यम मित्तल ,सुरेश सिंगला ,योगेश सिंगला ,राजू गोयल ,लोकेश अग्रवाल ,हरीश सिंगला ,सोरभ गोयल , विपिन मंगला , सोरभ मंगला , राहुल सिंगला और सभी व्यापारी इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

(योगेश अग्रवाल.9810366590)

योगेश अग्रवाल - 9810366590

नवभास्कर न्यूज़ एक माध्यम है आप की बात आप तक पहुंचने का!