ब्राह्मण वाड़ा स्थित सियाराम हनुमान मंदिर मे चल रही राम कथा। व्यक्ति प्रभु राम जी के पद चिन्हों पर चलना शुरु करे तो जीवन मे कोई कष्ट नही होताःरामनुजदास

नवभास्कर न्यूज. बल्लभगढ़ः

नवरात्रों के अवसर पर सियाराम हनुमान मंदिर ट्रस्ट ब्राह्मण वाड़ा बल्लभगढ़ द्वारा 17 अक्तूबर से श्रीरामचरितमानस के पंचम सोपान श्री सुंदरकांड (राम कथा )का आयोजन किया जा रहा है जोकि 25 अक्तूबर तक चलेगा। कथा वक्ता श्री सतना रामनुजदास (भैया जी) है जो अपनी मधुर वाणी से इस सुंदरकांड (राम कथा) का रसपान रामभगतो को करा रहे है। गुरुवार को कथा व्यास ने भक्तो को बताया कि मर्यादा परुषोत्तम राम की कथा को पढ़ने के साथ साथ अगर इंसान उसको अपने जीवनशैली में उतार लें और व्यक्ति प्रभु राम जी के पद चिन्हों पर चलना शूरु कर दे तो उसको जीवन मे कोई कष्ट नही होगा। कथा व्यास ने बताया कि प्रभु राम से या जिस भगवान को भी आप मानते हो उनसे गुरु के सानिध्य में आकर एक रिश्ता बना लो जिससे भगवान भी आपके प्यार में आपकी भक्ति में बंध जाए और आपको सदबुद्धि प्रदान करे।
कथा श्रवण कर रहे भक्तोंं को कथा व्यास ने भगवान और भक्ति का अर्थ समझाते हुए कहा कि जो प्रभु का नाम जप्ता है ,संकीर्तन करता है उसकी भगवान स्वयं रक्षा करते है जैसे कि जब हनुमानजी माता सीता का पता लगाने लंका जाते है और इंद्रजीत उन्हें ब्रह्म्फास में बांध लेता है तो रावण की आज्ञा से उनकी पूंछ में आग लगा दी जाती है तो हनुमान जी पूरी लंका नगरी में आग लगा देते है लेकिन प्रभु राम जी के भक्त बिभीषन का घर नही जलाता उनका कुछ भी अहित नही होता।

(रिपोर्टः योगेश अग्रवाल.9810366590)

योगेश अग्रवाल - 9810366590

नवभास्कर न्यूज़ एक माध्यम है आप की बात आप तक पहुंचने का!