गीता स्थली ‘कुरुक्षेत्र’ में अब पर्यटक टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र ‘गीता’ के कर सकेंगे दर्शन. राष्ट्रपति भवन में रखी इस विशेष गीता को राष्ट्रपति ने किया हरियाणा सरकार को भेंट

नवभास्कर न्यूज. नई दिल्लीः
राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शनिवार को गीता स्थली ‘कुरुक्षेत्र’ हेतु  टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र ‘गीता’ की एक विशेष कृति हरियाणा सरकार की तरफ से प्रतिनिधि कैबिनेट मंत्री मूलचन्द शर्मा को प्रदान की। खास धातु से बनी इस विशेष कृति  को कुरुक्षेत्र में  ‘गीता ज्ञान संस्थानम केंद्र’ में दर्शनार्थ रखा जाएगा।
शनिवार को नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने गीता स्थली  ‘कुरुक्षेत्र’ में  ‘गीता ज्ञान संस्थानम केंद्र’ में रखने के लिए गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद महाराज व कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा को टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र ‘गीता’ की विशेष कृति प्रदान की।
उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति भवन में टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र गीता’ की एक विशेष कृति मौजूद थी। राष्ट्रपति भवन में उपलब्ध टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र ‘गीता’ की विशेष कृति को गीता स्थली ‘कुरुक्षेत्र’ में रखने के लिए राष्ट्रपति की ओर से 01 जनवरी,2020 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को एक पत्र लिखा गया था। इस प्रक्रिया में गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज ने नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति  राम नाथ कोविंद से टाइटेनियम धातु पर उत्कीर्ण पवित्र ‘गीता’ की विशेष कृति प्राप्त की। इस दौरान गुरुग्राम विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ मार्कंडेय आहूजा भी मौजूद रहे।
इस दौरान कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि यह अद्भुत क्षण है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हरियाणा को टाइटेनियम धातु की गीता भेंट की है। मंत्री ने कहा कुरुक्षेत्र में ही गीता का उपदेश दिया गया था इसलिए इस गीता को स्थापित करने के लिए सबसे श्रेष्ठ स्थान कुरुक्षेत्र ही था।
योगेश अग्रवाल.9810366590

योगेश अग्रवाल - 9810366590

नवभास्कर न्यूज़ एक माध्यम है आप की बात आप तक पहुंचने का!